Natural Pain Killers in Hindi – 5 प्राकृतिक दर्द निवारक या पेन किलर्स आपके रसोई में

Did you know that our kitchen has several home remedies for pain to help you get pain relief? We bring to you information on the natural pain killers in Hindi. There are various natural herbs in our kitchen that work like pain killers. Here is the list of 5 natural pain killers such as ginger, carrot and pineapple. Let’s find out in this health article in Hindi on how they can relieve us of pains.

Did you know that our kitchen has several home remedies for pain to help you get pain relief? We bring to you information on the natural pain killers in Hindi. There are various natural herbs in our kitchen that work like pain killers. Here is the list of 5 natural pain killers such as ginger, carrot and pineapple. Let’s find out in this health article in Hindi on how they can relieve us of pains.

क्या आप लगातार घुटने के दर्द से पीड़ित हैं या किसी भी शारीरिक काम के बिना लगातार थकान महसूस कर रहें  है? आपको यह जानकर आश्चर्य हो सकता है कि  सबसे शक्तिशाली दर्द निवारक चीजें  हमारे रसोई घर में आसानी से उपलब्ध हैं । आपको सिर्फ  अपने खाने की आदतों में  थोड़ा परिवर्तन सब करने की जरूरत और आप  इन दर्द और इस प्रकार के स्वास्थ्य मुद्दों से दूर रह सकते   है।

प्राकृतिक दर्द निवारक  या पेन किलर्स जो वास्तव में काम करते हैं

Ginger
Ginger

क्या बीन्स सूजन को कम कर सकते हैं?

हाँ अवश्य कर सकते हैं! बहुत से लोग नहीं  जानते कि  सेम में दर्द से लड़ने की ताकत हैं। वास्तव में वे उपयोगी खनिज, तांबा, मैंगनीज और फाइबर का एक समृद्ध स्रोत हैं। मांसपेशियों के दर्द को कम करने के अलावा, सेम समग्र शरीर दर्द को कम करने के लिए भी अद्भुत काम करता है अगर आप इसे नियमित रूप अपने आहार का एक भाग बना लें  । खासतौर पर अगर  शारीरिक गतिविधियाँ आपके व्यवसाय  में  शामिल है, तो आपको  सेम एक हफ्ते 3-4 बार अवश्य  खाना  चाहिए।

एक प्राकृतिक दर्द रिलीवर के रूप में अदरक

यह आम जड़ी बूटी स्वास्थ्य लाभ के लिए एक पॉवरहॉउस  है। नियमित रूप से पर्याप्त मात्रा में अदरक  खाना मांसपेशियों के दर्द को हमेंशा  दूर रखता है । अदरक एक प्राकृतिक पाचन वर्धक जड़ी बूटी   है। इसे या तो नियमित रूप से इसे चबाऐं  या एक छोटे से टुकड़े को कुचल कर चाय में डालें । इसके पोषक तत्व आपको  ऊर्जा देंगे । वास्तव में, अगर आप  मध्यम आयु वर्ग के हैं तो आपको रोज अदरक चबाने की आदत बनानी  चाहिए। एक तो आपको  घुटने का  दर्द कभी नहीं होगा और अदरक के अन्य स्वास्थ्य लाभ भी मिल जायेंगे ।

घुटने के दर्द के लिए गाजर का रस

कई लोगों के इस बारे में पता नहीं है  कि गाजर बीटा कैरोटीन और विटामिन ए का एक समृद्ध स्रोत है  इसलिए  यह एक उल्लेखनीय प्राकृतिक निवारक है। गाजर के  पोषक तत्व शरीर  के  क्षतिग्रस्त या कमजोर कोशिकाओं की जगह से नई कोशिकाओं के विकास को बढ़ावा देकर दर्द दूर करता है । गाजर का रस शरीर से विषाक्त पदार्थों को हटाने में अत्यधिक प्रभावी पाया गया है। धूम्रपान छोड़ने के बाद तेजी से धूम्रपान के प्रभाव की भरपाई के लिए गाजर का रस पीने की सलाह दी जाती है  । गाजर वैसे भी दर्द से राहत के लिए भी प्रभावी  है।
एक प्राकृतिक दर्द निवारक के रूप में अन्नानास

विटामिन सी, मैग्नीशियम और थायमीन से भरपूर अनानस दर्द निवारण में काफी कारगर है  । बस इसके कुछ टुकड़े नाश्ते के दौरान हर रोज खाने की आदत बनाएं और परिणाम देखें । आप जब तक आप इस आदत को बनाए रखेँगे तब तक  में घुटने में दर्द या पूरा  शरीर में कभी दर्द से ग्रस्त नहीं होगा।

दर्द राहक  तेल

इन प्राकृतिक दर्द निवारक  के अलावा, आपको  इस तरह के सामन के रूप में ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर  तेलों जैसे साल मन के तेल का भी का उपयोग करना चाहिए । यह प्रोटीन का एक समृद्ध स्रोत है और बहुत स्वादिष्ट भी  होता है। कई अध्ययनों से पता चला है की ओमेगा 3 ब्रुफेन खाने ज्यादा प्रभावी  हॉता है विशेष रूप से गठिया के मामले में । न सिर्फ ये दर्द कम करता है बल्कि समग्र स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है ।

Originally posted 2015-10-29 01:30:28.

Leave a Reply

Your email address will not be published.